बारिश के दिनों में चीटियों के पंख क्यों निकल आते हैं GK in Hindi | General Knowledge

GK in Hindi | General Knowledge बारिश के दिनों में चीटियों के पंख क्यों निकल आते हैं  : बरसात के दिनों में जब हम आसमान की ओर देखते हैं तो हमें छोटे-छोटे कीड़े उड़ते दिखाई देते हैं। कभी-कभी नीचे जमीन पर चींटियां भी दिखाई देती हैं जिनके पंख होते हैं। क्या कारण है कि बारिश के मौसम में चीटियों को पंख लग जाते हैं ( General Knowledge )। लेकिन बारिश के मौसम में चीटियों के पंख क्यों निकलते हैं इसका जवाब हैरान करने वाला है। लेकिन यह उतना खतरनाक नहीं है जितना आप सोचते हैं। दरअसल, चींटियों की कुछ प्रजातियां ऐसी होती हैं जिनके पंख बसंत या गर्मियों की शुरुआत में दिखने लगते हैं ( GK in Hindi)।

GK in Hindi | General Knowledge बारिश के दिनों में चीटियों के पंख क्यों निकल आते हैं

बारिश के दिनों में चीटियों के पंख क्यों निकल आते हैं

General Knowledge बारिश के दिनों में चीटियों के पंख क्यों निकल आते हैं

चीटियों की कुछ प्रजातियां ऐसी होती हैं जो प्रजनन के समय ही बाहर निकलने लगती हैं। इन पंखों को चींटियों का ‘सहकर्मी’ माना जाता  ( GK in Hindi ) है। प्रजनन की महत्वपूर्ण अवधि के दौरान चींटियों को सुरक्षा और भोजन दोनों की आवश्यकता होती है ( General Knowledge )। पंखों वाली चींटियां ज्यादातर नर और युवा रानियां होती हैं। पंखों वाली यह चींटी घोंसला खोजने के लिए उड़ान भरती है। बारिश के मौसम में पंखों वाली चींटियां किसानों के लिए कोई खतरा पैदा नहीं करती हैं।

चींटियाँ साल में एक बार वसंत या गर्मियों में प्रजनन करती हैं। इस समय चीटियों के पंख निकल आते हैं ! यह अपने पंखों से उड़कर अपना घोंसला तलाशता है। एक बार प्रजनन स्थल मिल जाने के बाद वे पंप चींटियों के लिए किसी काम के नहीं होते हैं। ऐसे में वह इन पंखों को भोजन के रूप में खाकर अपनी भूख मिटाती हैं ( General Knowledge ) । ये पंखों वाली चींटियाँ झुंड में उड़ती हैं। संख्या अधिक होने के कारण इन्हें सुरक्षा मिलती है ( GK in Hindi ) । और आप शिकारियों को दूर रखने में मदद करते हैं।

यहाँ समझने में आसान : GK in Hindi | General Knowledge

पंख वाली चीटियों को आपने कई बार देखा होगा ( GK in Hindi ) ! लेकिन क्या आपने कभी गौर किया है कि ये पंख वाली चींटियां बारिश में ही दिखाई देती हैं! आमतौर पर नर चीटियां और मादा चींटियां बरसात के मौसम में पैदा होती हैं। एक मादा चींटी के साथ कई नर चींटियाँ होती हैं ( General Knowledge )। इनमें से एक या अधिक नर मादा चींटी को अंडे देने में सक्षम बनाते हैं। इस उड़ान को चींटियों की वैवाहिक उड़ान कहा जाता है।

Advertising
Advertising

आमतौर पर इस उड़ान के बाद नर चींटियों का जीवन समाप्त हो जाता है और वे मर जाते हैं ( GK in Hindi ) । मादा चींटी एक बिल में या किसी पत्थर के नीचे छिप जाती है और अंडे देने लगती है। चूंकि उसे अब उड़ने की जरूरत नहीं है, उसके पंख नष्ट हो गए हैं । और इन पंखों को अपना भोजन बनाती है। यही कारण है कि हमें बारिश में पंखों वाली चींटियां दिखाई देती हैं | General Knowledge

यह भी जानें – PM Kisan Yojana 12th Installment : इस दिन जारी होगी 12 वीं किस्त, किसान झटपट चेक करें तारीख़

 PM Free Silai Machine Yojana : महिलाओं को मिलेगी फ़्री सिलाई मशीन, आज से शुरू हुए आवेदन, ऐसे करें

PM Awas Yojana : पीएम आवास योजना में मिलेगी दुगुनी राशि, देखें सरकारी अपडेट

FD Interest Rate : यंहा मिलेगा FD पर 8.5% ब्याज , देखें किसे मिलेगा यह लाभ

Kisan Credit Card : जानें कौन – कौन बनवा सकता है KCC , बिना ग्यारंटी मिलेंगे 1.60 लाख रूपये

Sukanya Samriddhi Account Rule Change : सुकन्या खातें के नियम बदलें, जानें अब कितना मिलेगा ब्याज

UP Free Tablet Yojana Latest List : टेबलेट योजना की नई सूची जारी , देखें नाम

Small Business Ideas 2022 : कम बजट में शुरू करें ये बिजनेस , पहले दिन से होगी तगड़ी कमाई