Ration Card Rules Change : राशन कार्ड के नियम बदलें, जानें नए नियम

Ration Card Rules Change : सरकार के वन नेशन वन राशन कार्ड ( One Nation One Ration Card ) कार्यक्रम को पूरे देश में सफलतापूर्वक लागू किया गया है, जिसमें असम सेवा को संचालित करने वाला अंतिम राज्य है। ओएनओआरसी के तहत, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम, 2013 (एनएफएसए) के तहत कवर किए गए लाभार्थी बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण के साथ अपने मौजूदा राशन कार्ड ( Ration Card ) का उपयोग करके अपनी पसंद के किसी भी इलेक्ट्रॉनिक पॉइंट ऑफ सेल डिवाइस (ईपीओएस)-सक्षम उचित मूल्य की दुकानों से सब्सिडी वाले खाद्यान्न का अपना कोटा प्राप्त कर सकते हैं।

Ration Card Rules Change

Ration Card Rules Change

New Ration Card Rules Change

सीधे शब्दों में कहें तो राशन कार्ड ( Ration Card ) के पात्र लोगों को सरकारी दुकानों से रियायती दर पर खाद्यान्न आसानी से मिल सकता है । खाद्य मंत्रालय के अनुसार, वन नेशन वन राशन कार्ड ( One Nation One Ration Card ) पोर्टेबिलिटी ने कोविड-19 महामारी के पिछले दो वर्षों के दौरान एनएफएसए लाभार्थियों, विशेष रूप से प्रवासी लाभार्थियों को रियायती खाद्यान्न सुनिश्चित करने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

वर्तमान में, लगभग 3 करोड़ पोर्टेबल लेनदेन का मासिक औसत दर्ज किया जा रहा है, लाभार्थियों को कहीं भी लचीलेपन के साथ सब्सिडी वाले एनएफएसए और मुफ्त पीएमजीकेएवाई (प्रधान मंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना) खाद्यान्न वितरित किया जा रहा है । वन नेशन वन राशन कार्ड ( One Nation One Ration Card ) योजना का अधिकतम लाभ उठाने के उद्देश्य से केंद्र ने ‘मेरा राशन’ मोबाइल एप्लिकेशन भी शुरू किया है। मोबाइल ऐप राशन कार्ड ( Ration Card ) लाभार्थियों को उपयोगी रीयल-टाइम जानकारी प्रदान कर रहा है और 13 भाषाओं में उपलब्ध है। Google Play Store से अब तक ऐप को 20 लाख से ज्यादा बार डाउनलोड किया जा चुका है।

वन नेशन, वन राशन कार्ड योजना

आज तक, केंद्र शासित प्रदेशों सहित कुल 32 राज्यों में वन नेशन वन राशन कार्ड ( One Nation One Ration Card ) योजना लागू की गई है। एनएफएसए के तहत लाखों लाभार्थी यानी 86 फीसदी आबादी इस योजना से लाभान्वित हो रही है। हर महीने एक जगह से दूसरी जगह जाने से करीब 1.5 करोड़ लोग लाभान्वित हो रहे हैं. सरकार ने लोगों की मदद के लिए अपने मुफ्त राशन कार्ड ( Ration Card ) कार्यक्रम को बढ़ा दिया है । राज्य सरकारों द्वारा दिए गए सुझावों को ध्यान में रखते हुए नए मानक तैयार किए जा रहे हैं और इन्हें जल्द ही अंतिम रूप दिया जाएगा।

Advertising
Advertising

इस तरह आवेदन करें

  • सबसे पहले अपने राज्य की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन करने के लिए लिंक पर क्लिक करें।
  • राशन कार्ड बनवाने के लिए आप यहां आधार कार्ड, वोटर आईडी, पासपोर्ट, हेल्थ कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस आदि आईडी प्रूफ के तौर पर दे सकते हैं।
  • आवेदन भरने के बाद आपको 5 रुपये से लेकर 45 रुपये तक की फीस जमा करनी होगी।
  • फील्ड वेरिफिकेशन के बाद अगर आपका आवेदन सही पाया जाता है तो आपका राशन कार्ड जनरेट हो जाएगा।

क्यों बदल रहे है नियम  : Ration Card Rules Change

देश में कई लोग हैं जो राशन का दुरुपयोग करते हैं वन नेशन वन राशन कार्ड ( One Nation One Ration Card )। खाद्य और सार्वजनिक वितरण विभाग के अनुसार, वर्तमान में देश भर में 80 मिलियन से अधिक लोग राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (NFSA) से लाभान्वित हो रहे हैं। बहुत से लोग हैं जो आर्थिक रूप से संपन्न हैं। यही वजह है कि सरकार अब राशन कार्ड ( Ration Card ) नियमों में बदलाव करने जा रही है। इसे पूरी तरह से पारदर्शी बनाने के लिए नियमों में बदलाव किया जा रहा है ताकि नए मानक में कोई गड़बड़ी न हो।

इस वन नेशन वन राशन कार्ड ( One Nation One Ration Card ) के तहत सरकार राशन की दुकानों से राशन प्राप्त करने के पात्र लोगों द्वारा निर्धारित मानकों में बदलाव कर रही है। नए मानक का मसौदा लगभग तैयार है। राज्य सरकारों के साथ बैठक की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। यहां राशन कार्ड ( Ration Card ) के नए मानकों के बारे में जानकारी दी गई है।

यह भी जानें – PM Kisan Tractor Subsidy Yojana : आधी क़ीमत पर ले सकतें है ट्रैक्टर, किसान यंहा करें आवेदन

Post Office Public Provident Fund Account : पीपीएफ खाते में ऑनलाइन पैसा जमा कर सकते हैं ,यहां जानें

UP LPG Price 29 June : 13 जून से LPG की नयी कीमत तय , देखें नयी कीमत

आजकल जुगनू क्यों नहीं दिखाई देते है | यहां जानें GK In Hindi

PM Kisan yojana : अब खाते में आएंगे 4 हजार रुपये, जल्दी कर लें ये काम