PM Kusum Yojana Status : अब मिलेगा किसानो को बड़ा लाभ, सोलर पैनल 10% राशि में मिलेगा, जल्दी करे

PM Kusum Yojana Status :  किसानों ( Farmers ) को अब फसलों की सिंचाई ( Irrigation of crops )  के लिए बिजली या डीजल पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा ! दरअसल अक्टूबर माह से किसानों को केंद्र के साथ-साथ राज्य सरकार के सहयोग से ‘किसान ऊर्जा सुरक्षा एवं उत्थान महाभियान योजना (  PM KUSUM Yojana )  के तहत हाई पावर सोलर वाटर पंप ( Power Solar Water Pump ) मिल जाएगा ! किसान (Farmer) बिना किसी बाधा के आसानी से अपने खेतों की सिंचाई ( Irrigation of fields )कर सकेंगे ! सरकार ने कुसुम योजना ( KUSUM Scheme )  के तहत कार्य तेज कर दिया है !

PM Kusum Yojana Status

PM Kusum Yojana Status

PM Kusum Yojana Status

नवम्बर से किसान ( Farmers ) आधार कार्ड के आधार पर केंद्र प्रायोजित किसान ऊर्जा और (कुसुम) योजना से सौर जल पंपों का लाभ उठा सकते हैं ! रिपोर्ट्स के मुताबिक केंद्र सरकार ने इसकी जिम्मेदारी एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड ( EESL ) कंपनी को दी है जिसका मुख्य मकसद सिंचाई ( Irrigation Of Crops )  के लिए बिजली और डीजल पर निर्भरता कम करना है.

इस योजना (  PM KUSUM Yojana ) की सबसे अच्छी बात यह है कि वातावरण में प्रदूषित गैसों के साथ-साथ कार्बन डाइऑक्साइड में भी कमी आएगी ! इससे डीजल और बिजली की बचत होगी ! किसानों ( Farmers ) को दो तरह से फायदा हो सकता है !

योजना का उद्देश्य ( PM Kusum Yojana Status )

इस कुसुम योजना (  PM Kusum Yojana ) का मुख्य उद्देश्य किसानों ( Farmers ) को बिजली पैदा करने के लिए उन्नत तकनीक प्रदान करना है ! इन सौर पंपों ( Power Solar Water Pump )  के दोहरे लाभ हैं क्योंकि यह किसानों को सिंचाई ( Irrigation Of Crops )  में सहायता करेगा और किसानों को सुरक्षित ऊर्जा उत्पन्न करने की भी अनुमति देगा ! चूंकि इन पंप सेटों में एक ऊर्जा पावर ग्रिड शामिल है, इसलिए किसान अतिरिक्त बिजली सीधे सरकार को बेच सकते हैं जिससे उनकी आय में भी वृद्धि होगी !

Advertising
Advertising

कुसुम योजना के लाभ

कुसुम योजना के तहत लाभों की सूची निम्नलिखित है ! किसानों ( Farmers ) को अतिरिक्त बिजली सीधे सरकार को बेचने का विकल्प प्रदान किया जाएगा जिससे किसानों को अतिरिक्त आय में मदद मिलेगी ! सरकार ने सौर ऊर्जा पैदा करने वाले संयंत्रों के निर्माण की भी पहल की है ! मसौदे के अनुसार, ये संयंत्र कुल 28,250 मेगावाट बिजली पैदा करने में सक्षम हैं ! सौर ऊर्जा संयंत्रों  ( Power Solar Water Pump ) के अलावा, सरकार 720 मेगावाट की क्षमता वाले डीजल पंपों के साथ नए सौर पंपों की दिशा में काम कर रही है ! यह योजना (  PM Kusum Yojana )  किसानों ( Farmers ) को सोलर पंप लगाकर अतिरिक्त पैसा कमाने का अवसर भी प्रदान करती है ! अतिरिक्त उत्पन्न ऊर्जा की मात्रा सरकार को बेची जा सकती है !

इस नए और बेहतर सौर ऊर्जा से चलने वाले पंपों पर हर किसान को भारी  सब्सिडी ( Subsidy ) मिलेगी ! ( Kusum Scheme )  इस उद्देश्य के लिए किसानों ( Farmer ) को कुल लागत का केवल 10 प्रतिशत ही जुटाना होगा !केंद्र सरकार सौर पंप की कुल लागत पर पात्र किसानों को 60% सब्सिडी प्रदान करेगी, और शेष 30% लागत बैंकों द्वारा क्रेडिट के रूप में प्रदान की जाएगी !
सौर ऊर्जा ( Power Solar Water Pump )  और सौर संयंत्रों से बिजली के बढ़ते उपयोग से खेत में प्रदूषण का स्तर कम होगा !

किसानों के लिए सब्सिडी ( PM Kusum Yojana Status )

पंपों और नलकूपों की स्थापना के लिए लागत वितरण इस प्रकार है: –

  • केंद्र सरकार सब्सिडी के रूप में कुल लागत का 60%
  • बैंकों किसानों को ऋण के रूप में कुल लागत का 30%
  • किसानों कुल लागत का 10%

कीमत क्या है?

2 एचपी के सौर जल पंप ( Power Solar Water Pump ) की लागत मूल्य लगभग रु ! 2,05,5800 जो प्रतिदिन 1200 से 25 हजार 400 लीटर पानी छोड़ेगी ! वहीं, 3 एचपी का लागत मूल्य 2,69,8502 है जो प्रतिदिन 2500 से 60 हजार लीटर पानी छोड़ने में सक्षम है !

कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

  • सबसे पहले, किसानों को कुसुम योजना (  PM Kusum Yojana ) की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा !
  • पोर्टल में लॉगिन करें
  • अब, आप पोर्टल के होमपेज पर संदर्भ संख्या के साथ लॉग इन कर सकते हैं !
  • पोर्टल में लॉग इन करने के बाद, आप कुसुम सोलर पंप ( Power Solar Water Pump ) लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन पत्र भर सकते हैं !
  • योजना के लिए आवेदन करें
  • किसान ( Farmers ) को होम पेज पर दिखाई देने वाले “लागू करें” बटन पर क्लिक करना होगा !

रिपोर्ट के अनुसार, ( Kusum Scheme ) एजेंसी का चयन जिले में किया जाएगा ! जबकि जिला एजेंसी का चयन ईईएसएल द्वारा निविदा के माध्यम से किया जाएगा ! और एजेंसी के माध्यम से किसानों को सोलर वाटर पंप ( Power Solar Water Pump ) उपलब्ध कराए जाएंगे ! कुसुम योजना (  PM Kusum Yojana ) के तहत! सोलर पैनल लगाने के लिए किसानों ( Farmers ) को उपकरण की कुल लागत का 10 प्रतिशत भुगतान करना होगा ! शेष राशि में से 30 प्रतिशत का भुगतान केंद्र सरकार द्वारा! सब्सिडी  ( Subsidy ) के रूप में जबकि 30 प्रतिशत राज्य सरकार द्वारा किया जाएगा ! और शेष 30 प्रतिशत के लिए किसान बैंकों से ऋण ले सकते हैं ! सरकार भी किसानों ( Farmers ) को बैंकों से कर्ज लेने में मदद करती है !

यह भी जाने : Apply for Ration Card Online : अब ऑनलाइन चुटकियों में बनवाएँ Ration Card, जानें प्रॉसेस