PM Kisan Yojana Rules Change : पीएम किसान योजना के बदलें नियम, अब सिर्फ़ इन्हें मिलेगी 12वीं किस्त

PM Kisan Yojana Rules Change : प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना ( Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana ) के तहत मोदी सरकार अब तक 11 किश्त किसानों ( Farmer ) के खाते में भेज चुकी है. अब किसान 12वीं किस्त का इंतजार कर रहे हैं। लेकिन अब तक इस प्लान में कई बड़े बदलाव किए जा चुके हैं। आइए विस्तार से जानते हैं –

PM Kisan Yojana Rules Change

PM Kisan Yojana Rules Change

PM-Kisan Yojana Rules Change

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना ( Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana ) के तहत अब किसानों को 12वीं किस्त का इंतजार है। अब तक इस योजना की 11 किश्तें किसानों के खाते में जमा करा दी गई हैं। किसानों ( Farmer ) को बता दें कि पीएम किसान योजना के तहत केंद्र सरकार 2,000 रुपये की तीन किस्तें यानी 6000 रुपये सीधे किसानों के खाते में भेजती है. इस योजना का उद्देश्य देश के किसानों की आय में वृद्धि करना और सीधे उनकी आर्थिक मदद करना है।

जोत सीमा समाप्त

पीएम किसान योजना ( PM Kisan Yojana ) की शुरुआत में केवल उन्हीं किसानों को पात्र माना जाता था, जिनके पास 2 हेक्टेयर या 5 एकड़ की खेती योग्य खेती थी। लेकिन अब मोदी सरकार ने इस मजबूरी को दूर कर दिया है ताकि 14.5 करोड़ किसानों ( Farmer ) को इसका लाभ मिल सके.

आधार कार्ड आवश्यक

पीएम किसान सम्मान निधि योजना ( PM Kisan Samman Nidhi Yojana ) का लाभ उन्हीं किसानों को मिलेगा जिनके पास आधार है। आधार के बिना आप इस योजना का लाभ नहीं ले सकते। सरकार ने किसान ( Farmer ) लाभार्थियों के लिए आधार कार्ड अनिवार्य कर दिया है।

Advertising
Advertising

PM Kisan Yojana Rules Change : पंजीकरण सुविधा

इस योजना का लाभ अधिक से अधिक किसानों ( Farmer ) को मिले इसके लिए मोदी सरकार ने लेखाकारों, कानूनगो व कृषि अधिकारियों के चक्कर लगाने की बाध्यता समाप्त कर दी है. अब किसान घर बैठे आसानी से अपना पंजीकरण करा सकते हैं। अगर आपके पास खतौनी, आधार कार्ड, मोबाइल नंबर और बैंक खाता नंबर है तो आप pmkisan.nic.in पर किसान कॉर्नर में जाकर अपना प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना ( Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana ) रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। साथ ही अगर कोई गलती हो तो आप उसे खुद सुधार सकते हैं।

अपनी स्थिति जानें

सरकार ने किसानों ( Farmer ) की सुविधा के लिए सबसे बड़ा बदलाव किया है कि रजिस्ट्रेशन के बाद आप अपना स्टेटस खुद चेक कर सकते हैं. अब आप अपने खुद के आवेदन की स्थिति की जांच कर सकते हैं कि आपके बैंक खाते में कितनी किस्त आ गई है। पीएम किसान योजना ( PM-Kisan Yojana ) पोर्टल पर जाकर कोई भी किसान अपना मोबाइल या बैंक खाता नंबर डालकर स्थिति की जानकारी प्राप्त कर सकता है।

किसान क्रेडिट कार्ड : PM Kisan Yojana Rules Change

अब इस प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना ( Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana ) के तहत किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) को भी जोड़ दिया गया है। पीएम किसान के लाभार्थी आसानी से केसीसी बनवा सकते हैं। किसानों ( Farmer ) को KCC पर 4 फीसदी की दर से 3 लाख रुपये तक का कर्ज भी मिलता है।

मानधन योजना के लाभ

पीएम किसान सम्मान निधि योजना ( PM Kisan Samman Nidhi Yojana ) का लाभ लेने वाले किसानों को अब पीएम किसान मानधन योजना के लिए कोई दस्तावेज नहीं देने होंगे। इस योजना के तहत, किसान पीएम-किसान योजना से प्राप्त लाभों में से सीधे योगदान करना चुन सकते हैं। पीएम किसान योजना के तहत सरकार किसानों ( Farmer ) को हर तरह से लाभ पहुंचाने का प्रयास कर रही है।

राशन कार्ड अनिवार्य

अब लाभार्थियों के लिए पीएम किसान योजना ( PM-Kisan Yojana ) के तहत राशन कार्ड होना अनिवार्य हो गया है। यानी अब इस योजना का लाभ उन्हीं किसानों को मिलेगा, जो किसान ( Farmer ) अपने आवेदन में राशन कार्ड की डिटेल दर्ज करेंगे।

केवाईसी अनिवार्य किया गया

अब पीएम किसान योजना ( PM Kisan Yojana ) के तहत केवाईसी करवाना अनिवार्य हो गया है। केवाईसी कराने की आखिरी तारीख 31 जुलाई है, इसलिए अगर किसी किसान ( Farmer ) ने अभी तक केवाईसी नहीं कराया है तो तुरंत करा लें !

यह भी जानें – Google Scholarship : गूगल छात्रवृत्ति के लिए आवेदन शुरू, इन छात्रों को मिलेगी Google Scholarship

 UP Free Laptop Yojana July Update : फ्री लैपटॉप योजना में आवेदन शुरू, छात्र ऐसे करें आवेदन

Tarbandi Yojana : तारबंदी के लिए सरकार दे रही है 48 हज़ार रुपए, किसान ऐसे करें आवेदन

Sukanya Samriddhi Yojana Update : सुकन्या समृद्धि योजना में क्या हैं अकाउंट खोलने के नियम, यहां जानिए सबकुछ

PM Kisan Maandhan Yojana : किसानों को मिलती है मंथली पेंशन की गारंटी, सरकारी स्‍कीम में ऐसे कराएं रजिस्‍ट्रेशन