Chanakya Niti : चाणक्य के अनुसार दुश्मन जब शक्तिशाली हो तो, इस बात को कभी न भूलें एक दिन पाएंगे जीत

Chanakya Niti चाणक्य के अनुसार दुश्मन जब शक्तिशाली हो तो, इस बात को कभी न भूलें एक दिन पाएंगे जीत : महान ज्ञाता चाणक्य ने अपनी नीतियां (Ethics Of Chanakya) लिखी, जिसमें कई ऐसी खास बातों का वर्णन किया है ! साथ ही चाणक्य की गिनती श्रेष्ठ विद्वानों में की जाती है ! चाणक्य की शिक्षाएं आज भी काफी लोगों के लिए उपयोगी और प्रासंगिक साबित होती हैं ! यही कारण है कि आज भी काफी बड़ी संख्या में लोग चाणक्य की नीति को पढ़ते और उनके ज्ञान को समझते और उस पर अमल करते हैं और उनके बताएं मार्गों पर चलने की कोशिश करते हैं !

Chanakya Niti : चाणक्य के अनुसार दुश्मन जब शक्तिशाली हो तो, इस बात को कभी न भूलें एक दिन पाएंगे जीत

Chanakya Niti

Chanakya Niti

चाणक्य प्राचीन भारतीय शिक्षक, दार्शनिक, अर्थशास्त्री, न्यायविद और शाही सलाहकार कहे जाते थे ! वो चन्द्रगुप्त मौर्य के महामंत्री थे ! इतना ही नहीं उन्हें पारंपरिक रूप से काऊल्या या विष्णुगुप्त के रूप में भी पहचाना जाता है, जिन्होंने प्राचीन भारतीय राजनीतिक ग्रंथ, अर्थशास्त्र को अपने हाथों से लिखा है, जो कि तीसरी शताब्दी ईसा पूर्व और तीसरी शताब्दी ईस्वी के बीच मोटे तौर पर एक पाठ था !

दुश्मन अगर शक्तिशाली होतो इन बातों को रखें ध्यान

चाणक्य (Chanakya Niti) कहते हैं कि हर इंसान मे कोई न कोई प्रतिभा हमेशा से पाई जाती है ! इसी प्रतिभा के बल पर इंसान सफलता पाता है ! सफल इंसान के कई दुश्मन भी होते हैं जो उसकी सफलता से जलते हैं ! ये दुश्मन बाधा पहुंचाने का काम करते हैं ! वो कहते हैं कि सफलता की रफ्तार को कम करने की कोशिश करते हैं ! चाणक्य की माने तो दुश्मन बेहद शक्तिशाली हो तो कुछ बातों का हमेशा ध्यान रखना चाहिए !

चणक्य के अनुसार इन बातों का रखना होता है ख्याल | Ethics Of Chanakya

शत्रु की शक्ति को पहचानें

शत्रु की शक्ति के बारे में बात करते हुए चाणक्य कहते हैं कि दुश्मन की शक्ति को जानने और समझने में कभी कोई गलत या चूक नहीं करनी चाहिए ! इंसान जब तक अपने दुश्मन को अच्छे से समझेगा नहीं तब तक उसके लिए उसे हरा पाना मुश्किल होता है ! दुश्मन की हर गतिविधि पर नजर रखनी चाहिए और उसी के अनुसार अपनी रणनीति में बदलाव करना चाहिए !

Advertising
Advertising

शत्रु जब बेहद शक्तिशाली हो

चाणक्य ने नीति (Ethics Of Chanakya) अपनी नीति में लिखा है कि अगर आपका दुश्मन शक्तिशाली हो तो आपके लिए छिपा जाना ही बेहतर होता है, क्योंकि शक्तिशाली दुश्मन के सामने कभी भी कमजोर अवस्था में नहीं जाना चाहिए ! नहीं तो आपकी हार निश्चित है ! एक शक्तिशाली दुश्मन को हराने के लिए छिप कर उसकी कमजोरियों का देखाना चाहिए और उसको समझना चाहिए और सहीं समय का इंतजार करना चाहिए ! दुश्मन को हराने में संयम और आत्मविश्वास का अहम योगदान होता है !

Chanakya Niti : स्वयं की शक्ति को निरंतर बढ़ाएं

साथ ही चाणक्य कहते हैं कि इंसान को हमेशा अपनी शक्ति और प्रतिभा को निखारना चाहिए ! इंसान जब स्थिर हो जाता है और संतुष्ट हो जाता है तो दुश्मन अपनी चालों को चलने लगते हैं ! इसलिए इंसान को हमेशा अपनी शक्ति को बढ़ाने की दिशा में कोशिश करते रहना चाहिए !

अपनी योजनाओं का न करें खुलासा

Chanakya Niti आखिर में चाणक्य ने अपनी नीति (Ethics Of Chanakya) में लिखा है कि जब इंसान किसी विशेष लक्ष्य की प्राप्ति में लीन हो तो कभी भी उसे अपनी योजनाओं का खुलासा नहीं करना चाहिए ! समय से पहले योजना का पता चल जाने से प्रतिद्वंदी और दुश्मन सक्रिय हो जाते हैं और हानि पहुंचाने का कोशिश करते हैं !

यह भी पढ़ें :-  Small Business Ideas : कम बजट में अच्छे बिजनेस की है चाह, तो शुरू करें यह बिज़नेस